Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Shark Tank India Season 2 Kitsons Stationery & Toys Business के प्रोमो वीडियो में बिज़नेस पिचर बताते हैं की kitsons -Stationery, Toys, Books, Art & Craft के लिए काम करते हैं। बिज़नेस पिच में उन्होंने बताया है कि वे 20 हजार से भी ज्यादा carefully selected items जो बच्चों से बुजुर्ग सबके लिए हो ऐसा कलेक्शन बेचते हैं। शार्क विनीता ने उनकी मांग कि रक्कम सुनकर कहा कि बहुत Solid Business होगा उनका और बिज़नेस के बारे में जान्ने उत्सुकता व्यक्त करती हैं।

Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review
Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review

Kitsons Stationery & Toys Business Vision

Kitsons Stationery & Toys Business Vision है कि जिस तरह वह दक्षिण भारत में संगठित स्टेशनरी और खिलौना रिटेल क्षेत्र में सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक है और वे इसे और भी विस्तार करते हुए, उनकी चुनाव किये गए उत्पादों को ग्राहक कि लोकप्रियता के साथ प्रस्तुत करना चाहते हैं।

Kitsons SharkTank India Episode NumberSharkTank India Season 2, Week 9 Episode 44
Kitsons SharkTank India Episode Air Date2 March 2023
Kitsons FounderRajasekhar Reddy और Abhishek Reddy
Kitsons Ask In SharkTank India ₹10 करोड़ फॉर 10% इक्विटी
Kitsons Deal In SharkTank India No Deal
Kitsons Company Valuation₹100 करोड़
Kitsons Investor NameNo Deal
Kitsons Official WebsiteKitsons Website
Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review
Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review

Kitsons Stationery & Toys Business Founder

बाप बेटे कि जोड़ी Rajasekhar Reddy और Abhishek Y और Shubhankar Y kitsons Stationery & Toys बिज़नेस के फाउंडर हैं।

किटसन्स की स्थापना लेफ्टिनेंट कर्नल वाई राजशेखर रेड्डी (सेवानिवृत्त) ने की थी, जो उस्मानिया विश्वविद्यालय के यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से सिविल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट हैं। वह तत्कालीन एसपीए, स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर, दिल्ली में गए और 1986 में सेना में शामिल हो गए थे।

उन्होंने 22 साल तक सेना की सेवा की और आईपीकेएफ और कारगिल युद्ध जैसे अभियानों के भाग भी रहे हैं। बाद में उन्होंने उद्यमी बनने के लिए समय से पहले सेवानिवृत्ति ले ली थी और अब इस व्यवसाय से जुड़े हैं।

Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review
Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review

उनके बेटे अभिषेक ने पुणे के सिम्बायोसिस से बिजनेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा के साथ मैकेनिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन किया है। उन्होंने व्यवसाय में शामिल होने से पहले एक्सेंचर और डी ई शॉ के लिए काम किया है।

About Kitsons Stationery & Toys Business

Kitsons Stationery & Toys Business अपने प्रामाणिक, मूल और सर्वश्रेष्ठ श्रेणी के उत्पादों के लिए जाना जाता है। किटसन पूरी तरह से एक भारतीय और व्यक्तिगत नाम है। इसका नाम फाउंडर के बच्चों के नाम से लिया गया है और इसलिए व्यक्तिगत रूप से उनके दिल के करीब है।

अधिकांश दुकानों के विपरीत, 99% उत्पाद या तो भारतीय हैं या यूरोप से आयात किए जाते हैं। KITSONS दक्षिण भारत में संगठित स्टेशनरी और खिलौना रिटेल क्षेत्र में सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक है।

Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review
Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Kitsons Stationery & Toys Business में वे स्टेशनरी, खिलौने, किताबें, कला और शिल्प, पार्टी की जरूरतों और खेल में विशेषज्ञ हैं। सुरक्षित, ब्रांडेड उत्पादों के साथ उन्हें सीखने और विकसित करने में मदद करने के मकसद से सारे उत्पाद को पेश किये गए हैं। उनके स्टोर पर बच्चों के अनुकूल सभी उत्पाद हैं, और वे अच्छी तरह से व्यवहार करने वाले, घर-प्रशिक्षित वयस्कों को भी इसमें शामिल करते हैं।

Kitsons Stationery & Toys Business Statistics

  • 2010 में Kitsons Stationery & Toys Business की शुरुवात की गयी थी। उस वक़्त उनका Initial Investment ₹42 लाख था।
  • अब दूकान खोलने CapEx per Shop ₹70 लाख लगता है।
  • किटसन्स एक पहली पीढ़ी का व्यवसाय है जिसमें 7 रिटेल स्टोर शामिल हैं। वे सभी स्टोर गाचीबावली, नल्लागंडला, कोंडापुर, कोकापेट, वित्तीय जिला, खाजागुडा और हैदराबाद स्थित हाईटेक सिटी मौजूद हैं।
  • 20 हजार से अधिक SKU वे बेचते हैं।
  • इनका 100% कन्वर्शन रेट है।
  • किटसंस स्टेशनरी एंड टॉयज इयरली सेल्स (Kitsons Stationery & Toys Yearly Sales)
    FY 2019 – 2020 सेल्स – ₹5.7 करोड़
    FY 2020 – 2021 सेल्स – ₹4.3 करोड़
    FY 2021 – 2022 सेल्स – ₹6.3 करोड़
    FY 2022 – 2023 प्रोजेक्टेड सेल्स – ₹11 करोड़ से ₹12 करोड़ अनुमानित किया गया है।
  • Kitsons ग्रॉस मार्जिन 35% है और नेट मार्जिन 17% है।

Shark Tank India Season 2 Kitsons Stationery & Toys Business Deal

शार्क्स के हिसाब से बड़े विस्तार में ऑनलाइन बिज़नेस करना जरुरी है। अभी उनके बेटों को इनके बिज़नेस की पूरी जानकारी नहीं है। और साथ साथ लोकल दूकानदार की लोगों से दोस्ती होती है, वहीँ से लोग खरीदेंगे। उन्होंने जो अपने इलाके में रिश्ता बनाया है, वैसा विस्तार करते हुए बनाना मुश्किल है। कोई भी शार्क्स ऑफर नहीं करते हैं और कोई डील नहीं होती है।

Conclusion

Shark Tank India Season 2 Kitsons Stationery & Toys Business Review को शार्क्स के कमेंट के साथ साथ बिज़नेस इंडसट्री के आकड़ों के साथ इसके विस्तार के बारे में समझने का प्रयास करें। हर बिज़नेस को विविध स्तर पर विविध दिक्क्तें आती हैं।

खासकर जब मार्किट में जहां बहुत पर्याय होते हैं, वहाँ कस्टमर अकक़ुइस्तियन के साथ और भी कई चेकलिस्ट को मद्दे नजर रखकर बिज़नेस को बढ़ाना पड़ता है। इस बिज़नेस को आगे बढ़ने के लिए निवेश और विस्तार के लिए सुझाव कमेंट करें।

Must Read:

Shark Tank India: Waggy Zone Pet Ice Cream Complete Review

Shark Tank India: Healthy Master Online Dry Fruits, Chips & Nuts Complete Review

Shark Tank India: London Bubble Co Complete Review

Loading poll ...

1 thought on “Shark Tank India: Kitsons Stationery & Toys Retail Space Complete Review”

Leave a Comment