Highest Paid Indian CEO से भी अधिक वेतन लेनेवाले IIT graduate Meta CEO Mark Zuckerberg और Google CEO Sundar Pichai भी है आगे!

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

IIT alumnus Nikesh Arora वर्तमान में Business World में सबसे चर्चित हस्तियों में से एक हैं। अमेरिकी उच्चतम भुगतान वाले सीईओ (Highest-paid CEOs) की 2023 सूची में वे दूसरे स्थान पर हैं। पिछले दो वर्षों में, Nikesh Arora को पालो अल्टो नेटवर्क्स की वित्तीय रिपोर्ट (Palo Alto Networks’ financial report) के अनुसार $33.5 मिलियन से अधिक का कुल मुआवजा मिला है।

जिससे वे मेटा सीईओ मार्क जुकरबर्ग (Meta CEO Mark Zuckerberg) के $24.40 मिलियन और गूगल सीईओ सुंदर पिचाई (Google CEO Sundar Pichai) के $8.8 मिलियन से भी अधिक रक्क्म के साथ आगे हैं।

जानिये Meta CEO Mark Zuckerberg और Google CEO Sundar Pichai भी है आगे निकलनेवाले IIT graduate के बारे में।

IIT graduates ने Largest Global Tech Companies का नेतृत्व करके न केवल आईआईटी संस्थान, बल्कि पूरे भारत देश को गर्व कराया है। इन नामों की सूचि में Indian-born Palo Alto Networks CEO Nikesh Arora का भी ज़िक्र बना है। वे द वॉल स्ट्रीट जर्नल (The Wall Street Journal) द्वारा प्रकाशित एक सूची में दूसरे उच्चतम भुगतान वाले नेता हैं।

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार, निकेश अरोड़ा की कुल संपत्ति (Nikesh Arora’s net worth) $1.5 बिलियन है। इन Indian-origin के व्यक्तियों में से 17 लोग को Top 500 में लिस्ट किया गया था। जिनमें अडोबी के शंतनु नारायण (Adobe’s Shantanu Narayen) $44.93 मिलियन के वेतन के साथ 11वें स्थान पर थे।

Top 120 की सूचि में एनसिस (Ansys) के अजेई गोपाल (Ajei Gopal), माइक्रोन टेक्नोलॉजी (Micron Technology) के संजय मल्होत्रा (Sanjay Malhotra) और वर्टेक्स फार्मास्युटिकल्स (Vertex Pharmaceuticals) की रेशमा केवालरमानी (Reshma Kewalramani) का नाम भी मौजूद है।

Highest paid Indian CEO से भी अधिक वेतन लेनेवाले IIT graduate Nikesh Arora गाजियाबाद से हैं। उन्होंने 1989 में आईआईटी वाराणसी से ग्रेजुएशन किया है। अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के बाद, अरोड़ा ने अमेरिका में एमबीए किया। अरोड़ा ने गूगल में एक दशक लंबे करियर में कॉर्पोरेट सीढ़ी चढ़ी, और आखिरकार 2014 में कंपनी छोड़ दी।

2014 में उन्होंने गूगल छोड़कर जापान में सॉफ्टबैंक का नेतृत्व करके सुर्खियां बटोरीं, एक रिकॉर्ड-ब्रेकिंग मुआवजा पैकेज के साथ। 2018 से, वह साइबर सुरक्षा फर्म पालो अल्टो नेटवर्क्स में हैं।

Meta CEO Mark Zuckerberg और Google CEO Sundar Pichai भी है आगे Nikesh Arora ने इंजीनियरिंग(Engineering) की डिग्री हासिल की और उसके बाद अमेरिका में मास्टर्स ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन(Master Of Business Administration) का पोस्ट ग्रेजुएशन भी पूरा किया।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

उन्होंने अपने करियर के शुरुवात में एक दशक Google Company में अनुभव लिया। इतने दीर्घकाल काम करने के बाद 2014 में उन्होंने वह काम को छोड़ा और जापान में सॉफ्टबैंक का नेतृत्व करने के लिए आगे बढ़े, जहां उन्होंने highest paid Salary का नया रिकॉर्ड बनाया।

2018 से, वह पालो अल्टो नेटवर्क्स Palo Alto Networks)में हैं, जो साइबर सुरक्षा फर्म (cybersecurity firm) है। वहाँ नौकरी से की संपत्ति ₹12490 करोड़ रुपये की है।

Must Read:

Infosys CTO Rafee Tarafdar ने Engineering Students से Artificial Intelligence को मास्टर करने सुझाव दिया।

गर्भवती Zomato Customer को वेज की जगह नॉन-वेज थाली Food Delivery के बाद Social Media पर Company ने दी प्रतिक्रिया।

Conclusion

IIT graduate Nikesh Arora अपनी Highest Paid Salary के रिकॉर्ड से पिछले दो वर्षों में 256.1 करोड़ रुपये से अधिक का मुआवजा कमाया है। वह दुनिया के सबसे धनी सीईओ (World’s wealthiest CEOs )में से एक हैं, जिनकी कुल संपत्ति IIFL Wealth Hurun India Rich List 2022 के अनुसार 8,500 करोड़ रुपये है। इतना ही नहीं दो वर्षों में उनके धन में प्रति दिन 35 लाख रुपये से अधिक की वृद्धि हुई।

हालांकि कुछ Tech giants ने non-traditional compensation structures के विकल्प की और मोड़ लिए है और व्यावसायिक कारणों के कारण Elon Musk ने अबतक कोई मुआवजा रिपोर्ट नहीं किया है। इस खबर के साथ भारत के और भी रिकॉर्ड बनानेवाली ख़बरों पर अपनी रिसर्च जारी रखें, जिससे आपको मार्किट के बारे समझ बनती रहे।

Loading poll ...

Leave a Comment