गुजरात के एक Eye Wear Startup Founder और Lenskart Founder Peyush Bansal का आमना सामना!

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Eye Wear Business Pitch को Shark Tank India पर जब Lenskart Shark Peyush के आगे आमना सामना हुआ तो सभी शार्क के बिज़नेस होने के नाते इसके लिए उत्सुक थे।

हालांकि यह Intense Fous Business एकदम और हर तरीके से लेंसकार्ट से अलग मॉडल पर काम कर रहे हैं। सारे मुद्दों को चर्चा करते हुए, सभी Shark Judge के अपने Business Advice और व्यवसाय में निवेश करने के लिए जो चर्चा हुई है, उसमें Entrepreneur के चुनाव और उसके खासियत कि और लक्ष्य को समझने के लिए काफी बातचीत इस बिज़नेस पिच में देखने मिली।

क्या है Eye Wear Business Pitcher VS Shark Peyush Lenskart में अंतर?

Shark Tank India पर Eye Wear Brand को देखकर तो हमें लगा था कि शायद Hammer Lifestyle और Boat की तरह इसमें भी बिज़नेस खरीदने की बात बन जाएगी। Shark Peyush ने वैसे भी Isak Fragrance और Jugaadu Kamless के KG Agrotech में इस ही तरह के ऑफर दिए हुए है और इस सीजन में भी Orbo AI के Beauty GPT के लिए majority stake लेने का ऑफर दे चुके हैं।

लेकिन इस बिज़नेस पिच में शार्क टैंक इंडिया पर किसी भी शार्क उन्हें ऑफर नहीं दिया। Intense Focus के बारे में जो आई वियर बिज़नेस मॉडल (Eye Wear Business Model) के लिए जो बातें हुई, इसको समझने का प्रयाद करते हैं;

B2B Model VS B2C Model Eye Wear Business

Intense Focus जब खुद 20 प्रतिशत Eye Wear Production Sales करते हैं, उन्हें Eye Wear Cost भी अधिक पड़ती है और Distributor को मुनाफा देने के लिए खुदके लिए कम मार्जिन रख पाते हैं। उनके लिए दोनों बाजू से बिज़नेस की घटौती हो जाती है।

जबकि Lenskart Eyewear खुद Factory Production भी करता है और अपने Outlet से भी बेचता है, इसलिए सारा चैन उनका हो जाता है।

Intense Focus vs Lenskart
Intense Focus Shark Tank India peyush bansal news

Input Supply and Lead Cost

80 प्रतिशत Eye Wear Specs को Intense Focus China से मंगवाते हैं। उन्हें सारी मेहनत , Working Capital और Supply Cycle के लिए एक रक्क्म को रोककर रखना पड़ता है।

इसके अलावा Import करने के लिए Material के ऊपर खर्चे करने के बाद उसपर डिज़ाइन करके बनवाने के लिए अलग से वक़्त और मेहनत भी लगती है। और इसको स्केल ाकरने अन्य नए डिस्ट्रब्यूटर और नेटर्क पर काम करने के बाद ही उसकी सेल कर सकते हैं, जो हर डिस्टीब्यूशन में सेट करने के लिए ध्यान रखना पड़ेगा।

Distributor and Sales Working Captial Block And Profit Share

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Intense Focus को प्रोडक्ट की किम्मत के ऊपर इसके ऊपर अधिक डिज़ाइन करने और यहाँ से वहाँ प्रोडक्ट चैन और रेवेन्यु चैन में पैसे लगाए रखना होगा। लगभग 150 दिन की Credit Cycle को वो डिस्ट्रीब्यूटर के ख़ास नेटवर्क बनाने के बावजूद भी ख़ास लोगों से ही 90 दिन का Credit कर पाए हैं और Business Scale के साथ उन्हें 30% काम से काम निवेश करने पड़ेंगे।

₹5 करोड़ पे ₹15 करोड़ बने हैं और ₹500 करोड़ कर्जे उन्हें ₹150 करोड़ लगेंगे और विस्तार के बढ़ते मैनेजमेंट में प्रतिस्पर्धा के साथ उन्हें मार्केट साइज़ को बनाने में दिक्क्त होगी।

Product USP

Intense Focus Founder खुद इसको डिज़ाइन करते हैं और उनके पास 20 से अधिक फैक्ट्री की अपनी अपनी खासियत है। वे Brand से थोड़ा सस्ता ₹3000 से ₹5000 के लिए आम Eye Wear से अधिक बेहतर Design Element,Material Element और Visual Color Element पर काम करना चाहते हैं।

वे B2B में Levis जैसे और ब्रांड के साथ मिलकर अपने व्यवसाय को बढ़ाना चाहते हैं, जो ऐसे Skill Outsource Karna चाहते हैं। वो अपने खुदकी Experienced Design को Unique Manufacturing के Factory Curation को नवीनता के साथ अपनी खासियत प्रस्तुत करने Fast Moving Design को नावीनता के साथ प्रदान करना चाहते हैं।

Intense Focus Shark Tank India peyush bansal news
Intense Focus Shark Tank India peyush bansal news

हालांकि शार्क नमिता को प्रोडक्ट में इतना उठकर कोई USP नहीं दिखा । लेकिन बिज़नेस पिचर ने बताया कि चश्मे में 2 से 4 मटेरियल लगते है उसमें भारत में 2 मटेरियल मिल जाते हैं बाकी आम तौर से आसानी से नहीं मिलते हैं।

Acetate Material और Electroplating Coating जैसे पदार्थ के साथ बेहतर समाधान देते हैं। बड़े निवेश के साथ शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) ने इसपर काम शुरू किया है लेकिन बाकी 80 प्रतिशत unorganised market में उनकी खासियत बनी रहेगी।

Conclusion

Eye Wear Business Pitch को Shark Tank India पर जब Lenskart Shark Peyush के साथ देखें को मॉडल काफी अलग है। एकदम लग मार्केट के लिए काम करते हुए, इनके लिए Scale करने अनोखे चैलेंज होंगे। लेकिन शार्क अमित जैन (Shark Amit Jain) ने ₹1200 से Eye Wear में काम शुरू करके करोड़ों का व्यवसाय बनाने उनकी प्रेरणा दायी कहानी के लिए सराहना की।

दोनों Eye Wear Business Model में अपने खासियत पर जिस तरह बिज़नेस को चलाया है, उसको Entrepreneur दृष्टि से देखने मिला और हर कोई अपने निर्णय से आगेबढ़ सकते है उसके लिए सांझ भी मिली है। सही गलत के बजाय बेहत करते हुए ही बिज़नेस को बढ़ाना संभव है, क्यों हर स्तर पे हर किसी की अपनी खुभी और चैलेंज होते हैं।

Must Read:

Intense Focus Shark Tank India Business Complete Review

Gujarat के इस Shark Tank India Pitcher ने OYO Rooms में Investment Offer किया था!

Loading poll ...

Leave a Comment