Founded by Peyush Bansal – Lenskart Revenue दो गुना बढ़ा और Business Loss हुआ लगभग आधा।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Lenskart CEO Peyush Bansal ने Shark Tank India पर तीसरे वर्ष अपनी उपस्तिथी बनाई और साथ में अपने व्यवसाय के मार्केटिंग में परिवर्तन करने के साथ कई Business Investment और Acquisition से अपने नेतृत्व को प्रस्तुत किया।

अपने Eye-Wear Brand को Global बनाने Lenskart ने Abu Dhabi Investment Authority और ChrysCapital से $600 million Investment रेज किया था। बिज़नेस की गति और नेतृत्व के लिए जो न्यूज़ में बातचीत हो रही, उसके कुछ महत्त्वपूर्ण आकड़ों को जान्ने का प्रयास करते हैं।

Peyush Bansal ने Lenskart Revenue को 2x कर, इस Global Brand के आकड़ों को साबित किया है।

Lenskart Revenue की जानकारी को TheKredible से लेकर चर्चा में लेने का प्रयास करें, तो 2022 में ₹1,502 करोड़ से 2023 के अंत तक ₹3,788 करोड़ हो गया था। यह बढ़ौती लगभग 152% की होगी।

इतना ही नहीं अपने employee expenditure पर उनका खर्चा ₹245 करोड़ से ₹718 करोड़ तक बढ़ गया है, जिससे कंपनी के विस्तार के आयोजन के बारे में समझ पड़ता है। Softbank और Temasek-backed Lenskart के भविष्य में विचार है कि वह बंगलौर में Kempegowda International Airport पर new facility प्रस्तुत करें।

Lenskart Founder Peyush Bansal अपने बयानों में बता चुके हैं, कि वह न केवल भारत बल्कि Middle East और southeast Asia Market में भी अपने ब्रांड को लेकर आगे बढ़ेंगे। इतने सारे बड़े कदम लेते हुए, कंपनी ने अपने नुक्सान को भी कम किया है।

2022 में ₹102.3 करोड़ Business Loss को 2023 में ₹63.7 करोड़ तक घटा दिया । इतना ही नहीं Kids Eyewear और Fashion Category में नए प्रोडक्ट को लाकर एक आवयश्यक प्रोडक्ट के अतिरेक विचारधारा पर प्रोडक्ट को प्रस्तुत कर, लोगों ने इस लिफ्श्टीले के नजरिये से अपनाया है।

Must Read:

Ghazal Alagh’s Work-Life Balance में Infosys, LinkedIn, Netflix, और Reddit Founders पर नई बातचीत!

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Inshorts Founder Azhar Iqubal ने बताया English से ज़्यादा Business Language जरूरी है!

All Shark Deal लेने के साथ 30X Revenue कर 11 Foreign Countries में Business पहुँचाया!

Conclusion

Lenskart Founder Peyush Bansal ने अपने इन आकड़ों के लिए तीन वर्ष में कई परिवर्तन को अपनाया है। Business Updates में देखें तो माक्रेटिंग के तरीके में विविधता बनाते हुए, उन्होंने ब्रांड को लाइफस्टाइल प्रोडक्ट की तरह प्रस्तुत किया।

इसके साथ साथ प्रोडक्ट में नए डिज़ाइन को उपयोगिता से बढ़कर दिखावे के नजरिये से भी बनाकर प्रस्तुत किया। अपने व्यवसाय से जुड़ते eye-wear बिज़नेस से पार्टनरशिप और एक्वीजीशन किये।

Global Brand के रूप में विस्तार करने Funding भी ली और प्रॉफिट के संतुलन बनाकर आकड़ों पर भी प्रभाव बनाया। एक सम्पूर्ण सजग बिज़नेस के उदाहरण में ऐसे ही बढ़ते बिज़नेस को समझने के लिए कमेंट में जरूर बतायें।

Loading poll ...

Leave a Comment