Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review

Jain Shikanji Modi Nagarwale Business Pitch शुरू होने के पहले ही सभी शार्क ने जोरो शोरो से उत्साह जताया। शार्क अश्नीर ने तो निवेश करने की पूरी तैयारी जताई और शार्क पीयूष ने तो कहा की करोड़ रुपयेवाली बड़ी निवेश की मांग अब आनेवाली होगी। सभी शार्क ने इस तरह के Indian Drink को लेकर पूरी बात जानने के लिए पूरा उत्साह जताया। सबका पसंदीदा पेय होने के बावजूद यह बाजार में यह Monopoly Instant Premix Shikanji Masala है। इस कारण इसे प्रोडक्ट में हर शार्क को दिलचस्पी होते हुए मंच पर अलग ही माहौल बन गया।

Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review
Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review

क्या शुरुवात में निवेश करने को उत्सुक यह बिज़नेस अपनी रक्क्म के ऊपर निवेश ले पायेगा ? या फाइनल डील करने के लिए ऑफर, काउंटर ऑफर और बहुत सारे बिज़नेस लेसन की होगी बहुत सी चर्चाये ? व्यावसायिक, व्यवहारिक और आकड़ो के तालमेल में यह बिज़नेस पिचर क्या ले पाते हैं – शार्क्स से फाइनल डील ? पोस्ट को आगे देखने से पहले कमेंट कीजिए के आपने कभी यह प्रख्यात जैन शिकंजी पहले पी है या नहीं ? शार्क की तरह क्या आप भी इस बिज़नेस में निवेश करने के लिए इतने ही प्रोत्साहित रहते ? इसके बारे अपनी प्रतिक्रिया देकर बिज़नेस दृष्टिकोण से भी बात पेश कीजिएगा।

Index | अनुक्रमणिका Show

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Vision

अभीतक सिर्फ Instant Premix Jain Shikanji भारत में प्रख्यात है। असली शिकंजी का स्वाद मुंबई (Mumbai), गुजरात (Gujarat) और बैंगलोर (Bangalore) में लोगों को पत्ता नहीं है। बिज़नेस पिचर अनुभव ने बताया की वह जैन शिकंजी को कीओस्क सेंटर (Kiosk centre) में लाना चाहते हैं और PAN india में विस्तार करना चाहते हैं।

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Vision
Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review

शार्क अनुपम मित्तल (Shark Anupam Mittal) ने जब उनसे पुछा कि “यहाँ से 5 साल आगे देखे तो आपका क्या विज़न है ?”, तो बिज़नेस पिचर अनुभव ने बताया कि वह जैन शिकंजी बिज़नेस (Jain Shikanji Business) को बेवरीज इंडस्ट्री (Beverage Industry) में ले जाना चाहते हैं। शिकंजी के अंदर जो सोडा डालते है उसका फ़िज़्ज़ बहुत ज्यादा स्ट्रांग होता है जो पेट बोतल में संभव नहीं होता है। इसलिए अनुभव इसे कैन में लेके जाना चाहते हैं।

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Business Pitcher

अनुभव जैन (Anubhav Jain)

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Equity Structure

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन (Business Pitcher Anubhav Jain) बिज़नेस में २५ प्रतिशत के ओनर हैं। उनके पिता का पवन जैन (Pawan Jain) का ५० प्रतिशत और भाई हनी जैन का २५ प्रतिशत की इक्विटी है।

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji SWOT Analysis

बिज़नेस मैनेजमेंट की पढाई में कई स्तर पर SWOT Analysis के बारे में पढ़ाते हैं। हम यह आम विषय को इस बिज़नेस द्वारा पेश करने का मौका ले रहे हैं। आम शब्द में कहे तो SWOT माने Strength, Weakness, Opportunity और Threat होता है। अपनी निजी ताकत और खामी को Strength और Weakness में वर्गीकरण किया जाता है।

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji SWOT Analysis
Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review

बाह्य और बाजारी मौके और कठिनाइयों को Opportunity और Threat में वर्गीकरण किया जाता है। इससे बिज़नेस को अपने और बाजार के बारे में समझने में आसानी होती है और अपने आगे के काम के लिए नियोजन करने में मदद रहती है।

यह भी पढ़ें:- Woloo Shark Tank India Complete Review

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Opportunity

  • जैन शिकंजी को इकलौता प्रेमिक्स कि तरह मार्किट में हल्दीराम कि प्रख्यात कर सकते है। (Create Brand Instant Jain Shikanji Premix Sole Monopoly like Haldiram)
  • जैन शिकंजी को इसके स्ट्रांग सोडा के फ़िज़्ज़ के साथ कैन में मार्किट में नया परिचय दिलाना। (Introduce New Jain Shikanji Can)
  • जैन शिकंजी कियोस्क गर्म स्थानों में स्थापित करें, जहाँ 365 दिन गर्म वातावरण होता है। (Install Jain Shikanji kiosk in Places where there is 365 days hot climate)

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Threats

  • हाजमा हजम जैसे सामान स्वादवाले व्यवसाय होंगे तो इसे बड़ा बनाना मुश्किल होगा। (Competitor like Haajma Hajam)
  • आजकल इस नाम से बहुत से लोग शिकंजी बेचने लगे हैं, तो हर कागज़ी अनुमति होने के बावजूद भी इसे हटवाकर बिज़नेस के लिए एक बहुत बड़ी दिक्क्त है। (Difficulty in implementation of legal Rights)

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Strength

  • शिकंजी मसाला सीक्रेट इंग्रेडिएंट के साथ मोनोपोली के तरह मार्किट में प्रख्यात नाम है। (Jain Shikanji has legacy goodwill for Shikanji Masala Secret Ingredient Monopoly) जैन शिकंजी १९५७ से पारम्परिक व्यापारी परिवार प्रतिष्ठा (Legacy Business 1957 Origin) के साथ 64 साल से करोड़ लोगों को जैन शिकंजी चखा चुके है ।
  • इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स (Instant Jain Shikanji Premix) को PAN India तक Amazon.in द्वारा बेच चुके हैं।

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Weakness

  • जैन शिकंजी पारम्परिक परिवार का व्यवसाय है। इसे चलाने के लिए मौखिक अनुमति HBMB के पास है ,लेकिन यह सिर्फ मौखिक अनुमति है। (Family Permission Ambiguity)
  • इस वक़्त यह टूरिस्ट स्थल और गर्म स्थल पर निर्भर सीजनल बिज़नेस है। (Mostiy seasonal till now and so not making profit as expected for now)
Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Weakness
Jain Shikanji Shark Tank India Business Complete Review

Shark Tank India Episode 35 Jain Shikanji Business Investment Ask – ₹40 lakh for 8% Equity

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Company Valuation – ₹5 crore

शार्क अश्नीर ग्रोवर (Shark Ashneer Grover) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

शार्क अश्नीर ग्रोवर बिज़नेस पिचर जैन शिकंजी जानते ही निवेश के लिए उत्सुक दिखे। बातचीत के दौरान शार्क ने मांग की रककम देखते ही प्रतिक्रिया दी कि उन्हें लगा इनका बिज़नेस इससे तो बहुत बड़ा होगा। उन्हें निवेश कि मांग अपनी अपेक्षा से कम लगी। उन्होंने सवाल किया के ८ परसेंट स्टेक कि मांग इनकी अलग कंपनी के लिए है या पैरेंट कंपनी में ही इसका इस्तेमाल करेंगे ?

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने बताया कि २०१७ में इन्होने अलग कंपनी बनाई जिसका नाम था – HBMB Food Products Private Limited जिसमें HBMB का मतलब Honey Bhai Money Bhai है। बिसनेस पिचर अनुभव का पेट नेम मनी है और उनके बड़े भाई का नाम हनी है।

शार्क अश्नीर ग्रोवर ने समझना चाहा कि अब नई कंपनी कि मांग है तो नामचीन पैरेंट कंपनी क्या करती है और ये कंपनी क्या करती है?

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने बताया कि उनके बाबाजी के ५ बेटे हैं। भारतीय व्यावसायिक प्रथा अनुसार पिता जबतक हैं तब तक वे हर बेटे को एक काम सौपकर रखते हैं। उनकी सुचना अनुसार अनुभव के पिता पवन शिकंजी मसाला बनाते थे और बाकी अपने अपने रेस्टोरेंट में उत्पादन का ख्याल रखते थे। अभी अनुभव के बिज़नेस कीओस्क स्थापित (Kiosk Installation) में जुड़नेवाले हैं, जिससे उनके ताऊजी और भाइयों को कोई दिक्क्त नहीं, क्योंकि वे रेस्टोरेंट में नहीं जा रहे हैं। ये कीओस्क दस बाई दस और दस बाई आठ के काउंटर्स है।

शार्क अश्नीर ग्रोवर (Shark Ashneer Grover) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

इतना बड़ा सालों साल का यह व्यापार का एक ढांचा है, जो परिवार में भाइयों के पास है। रक्क्म कम है लेकिन विस्तार भाइयों में बट चूका है। शार्क अश्नीर जिस प्रतिष्ठा से बिज़नेस को देख रहे थे, उस हिसाब में इनके सवाल से बातचीत में प्रत्यक्ष व्यापार को एक नए विभाजित बिज़नेस के दृष्टिकोण से देखकर निवेश की प्रक्रिया बनेगी।

शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

नयी कंपनी के आकड़े अपेक्षा से कम आकड़े बता रहा था , इसलिए शार्क पीयूष बंसल ने उनके पैरेंट कंपनी कितना बिज़नेस करती है, ये जानना चाहा। बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने बताया कि वे केवल HBMB का बता सकते हैं। पिछले साल कि उनकी आय २५ लाख रुपये कि थी, क्योंकि कोविद (Covid) था। यह व्यापार टूरिस्ट पर निर्भर करता है। लोग हरिरद्वार को निकलेंगे तो वो शिकंजी पियेंगे। बिज़नेस पिचर अनुभव को ४०-६० लाख करना था, लेकिन लॉकडाउन के वजह से फिर वो नहीं हो पाया।

शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) ने नयी कंपनी में उनकी ओनरशिप क्या है और इक्विटी स्ट्रक्चर (Equity Structure) के बारे में सवाल किया ?
बिज़नेस पिचर अनुभव ने बताया कि उनके पिता का ५० प्रतिशत हिस्सेदारी है और भाइयों कि २५-२५ प्रतिशत कि हिस्सेदारी है।

मंच पे बातचीत में शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) ने स्पष्टीकरण करने पुछा कि जैन शिकंजी चलाने कि अनुमति (Legal Rights) दिए है वो उन्हें कागज़ी दस्तवेज (Paper Document) पे मिली है या सिर्फ मौखिक अनुमति है। बिज़नेस पिचर अनुभव ने बताया कि पेपर की तो जरुरत नहीं पड़ी है। पेपर की जरुरत पड़ने पर, वो भी बन जायेगा ऐसे उन्हें विश्वास है।

शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) ने कीओस्क (Kiosk) में न जाने के लिए सुझाव भी दिया । इसमें ओरिजिनालिटी की दुविधा होगी। सबकुछ बंद करके सिर्फ इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स पर फोकस करना चाहिए। और फिर उसका विस्तार करना चाहिए। कीओस्क में कॉपी होने के बहुत अवसर है और इसे संभालने के लिए बहुत वक़्त देना पड़ेगा, इस वजह से शार्क निवेश से बाहर हो जाते हैं।

शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

  • नयी कंपनी पैरेंट कंपनी से अलग है और सेल्स के आकड़े अपेक्षा से कम है।
  • इक्विटी में बिज़नेस पिचर की २५ प्रतिशत हिस्सेदारी है , वह भी नयी कंपनी की हिस्से में हिस्सेदारी है।
  • पारिवारिक दस्तावेज नहीं है , जिसमें ताऊजी की लिखित अनुमति हो।
  • बिज़नेस जो बड़ा बनेगा वो इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स प्रोडक्ट (Instant Jain Shikanji Premix Product), लेकिन बिज़नेस पिचर का विज़न में उसपर इतना फोकस नहीं लग रहा है।

शार्क अमन गुप्ता (Shark Aman Gupta) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

शार्क अमन गुप्ता ने सराहना कि दिल्ली से मेरठ आते हुए जैन शिकंजी आता है और वे पी पी के बड़े हुए हैं। उनके कजिन वहीं रहते हैं। लेकिन अब जब वे वहाँ जाते हैं – दिल्ली से ही शिकंजी दिखना शुरू हो जाता है। कम से कम ८०० लोग खुदको जैन शिकंजी बताते हैं। शार्क अमन कंफ्यूज हो जाते हैं कौन असली है । शार्क पीयूष ने भी सहमति बताते हुए कहा कि – एस्पेशल्ली जब सब आगे लगा लेते हैं ओरिजिनल।

अमन ने स्पस्टीकरण लेने उनसे पूछा कि क्या आप ओरीजिनल हो ?

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने बताया कि वे ओरीजिनल हैं क्योंकि उनके पास HBMB है। अमन ने जताया , लेकिन कैसे। HBMB तो किसीका नाम ही नहीं है। सभी शार्क्स ने इस मुद्दे में सहमति जताई कि जैन शिकंजी यह नाम और प्रोडक्ट बहुत प्रख्यात है और सभी पसंद करते हैं , लेकिन बातों से स्पष्ट नहीं हो रहा कि अपनी ओरीजिनल पहचान को वे कैसे साबित करते हुए मार्किट में इसे खरा उतार पाएंगे।

शार्क ग़ज़ल अलघ ने भी कहा कि वे जैन शिकंजी मसाला खरीद रही हैं, लेकिन वे अब कंफ्यूज हैं कि वे ओरीजिनल खरीद रही हैं या नहीं ?

शार्क अनुपम ने भी हास्य फरमाते हुए जताया कि बिज़नेस पिचर खुश न हो क्योंकि वे शायद उनके प्रोडक्ट नहीं खरीद रहे।

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने इस विषय में स्पष्ट किया कि छोटे ठेले वाले भी जैन शिकंजी लिखते हैं। नोएडा में भी कई लोग लिखते हैं – मोदीनगरवाला फेमस जैन शिकंजी (Modinagar Wala Famous Jain Shikanji), लेकिन इन्हें उनसे कोई दिक्क्त नहीं है। जैन शिकंजी के नाम से उनका थोड़ा काम चल रहा है उसके लिए वे खुश हैं। लेकिन रेस्टोरेंट पे कोई लिखता है तो वे उन्हें हटवाते हैं। ऐसे में वो अधिकार नहीं दे सकते, और उन्होंने सब रजिस्ट्रेशन और बिज़नेस की सभी प्रक्रियाओं का ख़याल रखा है।

इन सबके वजह से कॉपी करने के किस्से अब कम होते जा रहे हैं। शार्क पीयूष ने Premix Packet देखना चाहा और मंच पर प्रोडक्ट बताया गया जिसपर HBMB लिखा था। शार्क अमन गुप्ता ने भी बिज़नेस में परिवार के झगड़े (Family Feud) होने की शंका की स्पष्टीकरण मांगी और बिज़नेस पिचर अनुभव ने विश्वास से कहा – ऐसे बिलकुल भी नहीं है। बहुत साफ़ वार्तालाब और प्रतिष्ठा के साथ प्रोडक्ट में सभी सकारात्मक प्रतिक्रिया रही। लेकिन सवाल जवाब में बिज़नेस इन्वेस्टमेंट पर ऐसे और सवाल दूसरे शार्क्स ने भी किये।

शार्क अमन गुप्ता (Shark Aman Gupta) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

शार्क अमन बिज़नेस स्पस्टीकरण जानते हुए भी यह प्रदर्शित करना चाहते थे, के ओर्जिनल होते हुए भी इसे ठहराने में कई म्हणत और दिक्क्त है। और जिस तरह से परम्परे से पर्विआरिक व्यवसाय है, उन्हें परिवार से मौखिक अनुमति पर भी बिज़नेस दृष्टिकोण से थोड़ा संकोच हो रहा था। शार्क ने व्यवहारिक रूप से ये ओरिजिनल ब्रांड होने के दावे पर प्रसिद्धि करने में मेहनत कि चर्चा पर फोकस करना चाहा, जो बड़ा बिज़नेस बनाने के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण है।

शार्क ग़ज़ल अलघ (Shark Ghazal Alagh) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

शार्क ग़ज़ल अलघ (Shark Ghazal Alagh) ने बताया की जैन शिकंजी एक सीजनल उत्पाद है, जो गर्मियों में ज्यादा बिकता है। उन्होंने सवाल किया के ऐसे बिज़नेस लिए बिज़नेस पिचर बाकी समय में इसे बेचने के लिए क्या उपाय करते हैं ?

बिज़नेस पिचर अनुभव ने कहा कि वह इसलिए कीओस्क (kiosk) के पर्याय में विस्तार करना चाहते, जो महाराष्ट्र, गुजरात और भारत के दक्षिण में स्थित कर दिए जाए , जहां १२ महीने गर्मी रहती है। ऐसे पूरे साल बिक्री बनी रहेगी। शार्क ग़ज़ल ने सराहना की प्रोडक्ट बहुत अच्छा है। लेकिन उनका फॅमिलीवाला कन्फूज़न है। उन्होंने अपने खुदके घरमे पारिवारिक बिज़नेस को लेकर ऐसे अकल्पनीय झगडे देखें है। इसलिए वे इस प्रकार पारिवारिक बिज़नेस में निवेश नहीं करना चाहती है।

शार्क ग़ज़ल अलघ (Shark Ghazal Alagh) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

  • बिक्री और मुनाफे कि बातचीत में पैसों के उतार चढ़ाव (Sales Fluctuation )के साथ बिज़नेस का बड़ा विस्तार मुश्किल होता है।
  • पारिवारिक और मौखिक अनुमति पर निर्भरता (Family relation Dependency to run business) बिज़नेस के प्राथमिक स्तर से उतर चढ़ाव कर सकता है।

शार्क अनुपम मित्तल (Shark Anupam Mittal) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

व्यवसाय में उत्सुकता दिखाते हुए, शार्क अनुपम मंच पर अपने हाथों से शिकंजी परोसते हुए नजर आये। सभी ने इस भाव व्यक्त करने के लिए बिज़नेस के प्रति सद्भाव कि सराहना जताई।

बातचीत में सभी शार्क के साथ सहमति करते हुए , शार्क अनुपम ने भी इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स (Instant Jain Shikanji Premix) में विस्तार करने के लिए सुझाव रखा। इन्होंने बिज़नेस पिचर से पुष्टि भी ली के इस मार्किट में शिकंजी के लिए कोई और बड़ा स्पर्धी नहीं है। बिज़नेस पिचर शार्क्स कि सभी बातों में सहमत होते हुए नजर आये लेकिन वे संकोच भी कर रहे थे।

शार्क अनुपम मित्तल (Shark Anupam Mittal) ने उसे परखते हुए सवाल जवाब किये। जब सभी शार्क ने स्पष्टीकरण चाहा तब बिज़नेस पिचर ने अपने बचपन का किस्सा व्यक्त किया जहाँ उनके पिताजी प्रॉपर्टी में नुक्सान झेलना पड़ा। इनके ख़याला में आता है कि उस वक़्त बड़े होते तो जिम्मेदारी निभा पाते और वे २०१० में इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स प्रोडक्ट (Instant Jain Shikanji Premix Product) को निकाल लेते।

आज उन्हें १२ साल नहीं लगते, अगर वे उस समय २७ साल के होते । स्कूल में व् इस बात को लेके रोये भी हैं। शार्क अनुपम ने इस संकोच पर बिज़नेस कि सब बातें स्पष्ट करवाई और सांत्वना भी दी के सभी के जीवन में संगर्ष में होता है। इस तरह से काल्पनिक ख्याल थोड़ी होते हैं। बिज़नेस पिचर कि समय के गणित को देखते हुए शार्क पीयूष बंसल ने जताया के बिज़नेस पिचर जरूर कुछ बड़ा करेंगे।

शार्क अनुपम मित्तल (Shark Anupam Mittal) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

  • इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स प्रोडक्ट (Instant Jain Shikanji Premix Product) एकलौता बड़ा व्यावृ है और इसमें कोई प्रतिस्पर्धी भी नहीं है। (Sole Trader Monopoly with good scale opportunity )
  • शार्क ने इंटरप्रेन्योर के हाव भाव से परखा के उन्हें कुछ तो संकोच है इसे समझा । अबतक शार्क दिए हुए सुझाव को समझते हुए भी वे अपने नुकसानी और नए कंपनी के बनने के बाद बिज़नेस पटचर दस साल देर से काम कर पा रहे है, यह स्पष्ट किया। (Clarification for hesitation of business History)

शार्क नमिता थापर(Shark Namita Thappar) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

सबके जुबान पे चखा हुआ और बेहद ही उत्साह से बातचीत में जैन शिकंजी के चर्चा में शार्क नमिता थापर व्यापार कि गहराई में जाते हुए कहा कि अहमदाबाद में हूबहू स्वाद में एक प्रोडक्ट मिलता है। जिसका नाम है हाजमा हजम। उन्होंने कहा कि अगर सामान स्वाद में और भी ऐसे प्रोड्कट आ गए तो वे ब्रांड कैसे बनाएंगे ?


बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने विश्वास जताया कि उनके शिकंजी मसाले का स्वाद ही मोनोपोली का काम करता है। (उसमें Secret Ingredient है, जिस वजह वो इतना प्रख्यात है। )

शार्क नमिता ने जताया के इंस्टेंट जैन शिकंजी प्रेमिक्स प्रोडक्ट (Instant Jain Shikanji Premix Product) का एक्सपोर्ट में बड़ा बिज़नेस बन सकता है। लेकिन इसमें वे कुछ योगदान नहीं कर पायेंगी, इसलिए वे निवेश नहीं करना चाहती।

शार्क नमिता थापर(Shark Namita Thappar) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

  • शार्क ने मौजूद प्रतिस्पर्धी के बारे में बायचित करते हुए यह संभावना जताई कि सामान स्वाद के उत्पाद मार्केट में लाना मुश्किल नहीं है। ऐसे में अपने स्वाद के भरोसे कढ़त देकर ब्रांड बनाना मुश्किल हो सकता है।
  • भारत के स्वाद के बड़े शेल्फ लाइफ वाले ऐसे उत्पाद एक्सपोर्ट में अच्छा काम सकते हैं, इस बारे में नया अवसर के बारे में सुझाव शार्क ने पेश किया।

शार्क विनीता सिंह (Shark Vineeta Singh) बिज़नेस एक्सपर्ट कमेंट (Business Expert Comments)

व्यापर विस्तार की चर्चा में शार्क विनीता ने बहुत प्राथमिक सवाल किया – जैन शिकंजी मोदी नगर में है, वहाँ इसे बनाने के लिए प्रोडक्शन कैपेसिटी (Production Capacity) क्या है ? सालाना ऐसे कितने उत्पाद बन सकते हैं ?

बिज़नेस पिचर अनुभव जैन ने बताया के 3 से 4 करोड़ रेवेनुए तक का प्रोडक्शन आराम से संभाल सकते हैं। इसके आगे विस्तार करने उन्हें बड़ा प्लांट बनाना पड़ेगा। जो अभी तैयार नहीं है। इसके इलावा उन्होंने सुझाव दिया के एक लिखित स्पष्ट दस्तावेज की आवश्यकता जरूर रहेगी, जहां उनके ताऊजी और परिवार के लोगों की सहमती मिली हुई हो। अनुमति लिखित होने से आगे कोई दिक्क्त नहीं होगी।

शार्क विनीता सिंह (Shark Vineeta Singh) Business Questions Interpretation for जैन शिकंजी (Jain Shikanji)

  • बड़े बड़े बिज़नेस कि बातों के साथ उसे बनाने के बाए में प्रोडक्शन कैपेसिटी (Production Capacity) कि चर्चा पर शार्क ने बहुत महत्त्वपूर्ण बातचीत करी। इसपर पिचर के बताये आकड़ो से विस्तार के साथ इसकी तैयारी के बारे में अंदाजा बनाने का अवसर मिला।
  • परिवार से मौखिक अनुमति को लिखित करने का सुझाव रखा । क्योंकि यह एक व्यापार के लिए स्तम्भ है और साथ ही स्पष्ट रिपोर्टिंग का तरीका जिससे बिज़नेस के लिए विश्वास बनाना आसान होता है।

Shark Tank India Episode 35 Business Jain Shikanji Final Deal

ऑफर, काउंटर ऑफर के इस मेलजोल बनाने में शार्क नमिता थापर (Shark Namita Thappar), शार्क ग़ज़ल अलघ (Shark Ghazal Alagh) और शार्क पीयूष बंसल (Shark Peyush Bansal) निवेश से बाहर हो जाते हैं। इसके बाद बाकी के चार शार्क्स – शार्क विनीता सिंह (Shark Vineeta Singh), शार्क अश्नीर ग्रोवर (Shark Ashneer Grover), शार्क अमन गुप्ता (Shark Aman Gupta) और शार्क अनुपम मित्तल (Shark Anupam Mittal) – ₹40 lakh for 30 percent Equity के निवेश का काउंटर ऑफर सामने रखते हैं। शार्क विनीता ने फ़रमाया की इतने सारे शार्क मिलकर वे इसे हल्दीराम की तरह घर घर में मिलनेवाला ब्रांड बनाना चाहते हैं। शार्क अनुपम ने भी इस निवेश के लिए जताया की वे बिज़नेस पिचर के ऊपर बेट ले रहे इस हिसाब से निर्णय लें। बिज़नेस पिचर अनुभव सोचने का वक़्त मांगते हैं। जिसपर अमन पूछते हैं की क्या वो ताऊजी से पूछना चाहते हैं। अनुभव ने विश्वास से कहा की निर्णय तो वे खुद लेंगे।

इस दरमियान शार्क ग़ज़ल ने बताया की ३० प्रतिशत की भागीदारी तो पिचर अनुभव के पास भी नहीं है। शार्क अश्नीर ने कहा इसमें सभी Equity Holder Dilute करेंगे। शार्क अमन ने निवेश में रक्क्म के लिए सहमत होते हुए भी कहा की वे इसमें एक्टिव नहीं होना चाहते हैं। वे शिकंजी नहीं बेच सकते हैं। Ashneer Grover ने कहा के वे यह काम करवा लेंगे, उन्होंने जताया की सिर्फ रीपैकींग (repacking) पे काम करना है। इसपर शार्क अनुपम ने भी सहमति की इस बिज़नेस को ऑनलाइन फोड़ना है।

इतने में बिज़नेस पिचर अनुभव सिर्फ खुद सोचकर वापस आते हैं, और चारों शार्क यह काउंटर ऑफर फाइनल करते हैं। इस तेज निर्णय पर शार्क अनुपम ने कहा की इस वजह से उनका इस बिज़नेस पर विश्वास और भी गहरा हो गया है। शार्क विनीता ने भी उनके पारम्परिक बिज़नेस पर अब चारों शार्क का भी विष्वास जुड़ा है। बड़े ही रोचक और उत्साह से जैन शिकंजी की डील में चार शार्क निवेश करते हैं।

अन्य पढे:

Elcare Shark Tank India Complete Review

Stock Keeping Unit Meaning, Example In Hindi

SKU Full Form|Stock Keeping Unit Meaning, Example In Hindi

Leave a Comment